भक्ति YouTube网红频道详情与完整数据分析报告

भक्ति YouTube网红频道详情数据与分析报告 (数据更新时间 2019-12-12)
भक्ति
YouTube频道创建时间: 2011-10-12地区: 印度  语言: Khasi 
636万 
总观看量
12.82亿  0.1%
平均观看量
5.63万  15.8%
总视频数
5007 
频道标签
粉丝全球排名
1,110th  (前 1%)
粉丝国家/地区排名
115th  (前 1%)
Nox评级
  2.96 
发布视频数
69  (最近一个月)
单月YouTube广告联盟收入
3.79万元-10.11万元
单个视频合作参考费用
835.01元
भक्ति 粉丝数每日对比 
7日
30日
观看量
粉丝数
近7天粉丝数增长量: 上个7天粉丝数增长量:
भक्ति 粉丝量历史数据总览 (最近一年)
每日数据
累积数据
提示:由于YouTube只显示前三位粉丝数,所以曲线略有变化
भक्ति 观看量历史数据总览 (最近一年)
每日数据
累积数据
भक्ति 未来数据预估 (未来一年)
预估的受众粉丝年龄和性别分布 
预估的受众粉丝的地理位置分布 
最近发布的30个视频互动率平均表现
  • 观看量/粉丝数
    0.67%
  • 点赞数/观看量
    0.69%
  • 评论数/观看量
    0.08%
  • 点踩数/观看量
    0.10%
最近发布的30个视频观看量分布
平均观看量4.28万
最热门视频 - 来源于 भक्ति YouTube网红频道
307.29万 观看量· 2019-10-03 视频发布时间· 1.45万 点赞数· 1448 评论数

To get more of Bhajans / Aartis / Chalisa subscribe to our channel by clicking here -- http://goo.gl/1ZrqPa Ambay Tu Hai Jagdambe Kali Om Jayanti Mangla Kali Singer: Anjali Jain Label: Bhakti Classic Digital Distribution & Promotion By: Ziiki Media नवरात्रि में इस दिन करें मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की उपासना- 29 सितंबर, प्रतिपदा - नवरात्रि के पहले दिन घट या कलश स्थापना की जाती है। इस दिन मां के शैलपुत्री स्वरुप की पूजा की जाती है। 30 सितंबर, द्वितीया - नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा का विधान है। 1 अक्टूबर, तृतीया - नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है। 2 अक्टूबर, चतुर्थी - नवरात्रि के चौथे दिन मां के कुष्मांडा स्वरुप की पूजा की जाती है। 3 अक्टूबर, पंचमी - नवरात्रि के 5वें दिन मां स्कंदमाता की पूजा करने का विधान है। 4 अक्टूबर, षष्ठी - नवरात्रि के छठें दिन मां कात्यायनी की पूजा होती है। 5 अक्टूबर, सप्तमी - नवरात्रि के सातवें दिन कालरात्रि की पूजा होती है। 6 अक्टूबर, अष्टमी - नवरात्रि के आठवें दिन माता के भक्त महागौरी की अराधना करते हैं। 7 अक्टूबर, नवमी - नवरात्रि का नौवें दिन नवमी हवन करके नवरात्रि पारण किया जाता है। 8 अक्टूबर, दशमी - दुर्गा विसर्जन, विजयादशमी नवरात्रि पर्व मनाने के पीछे बहुत-सी रोचक कथाएं प्रचलित हैं। आपके लिए प्रस्तुत हैं असुरों के नाश की एक रोचक कथा। कहा जाता है कि दैत्य गुरु शुक्राचार्य के कहने पर दैत्यों ने घोर तपस्या कर ब्रह्माजी को प्रसन्न किया और वर मांगा कि उन्हें कोई पुरुष, जानवर और उनके शस्त्र न मार सकें। वरदान मिलते ही असुर अत्याचार करने लगे, तब देवताओं की रक्षा के लिए ब्रह्माजी ने वरदान का भेद बताते हुए बताया कि असुरों का नाश अब स्त्री शक्ति ही कर सकती है। ब्रह्माजी के निर्देश पर देवों ने 9 दिनों तक मां पार्वती को प्रसन्न किया और उनसे असुरों के संहार का वचन लिया। असुरों के नाश का पर्व है नवरात्रि। असुरों के संहार के लिए देवी ने रौद्र रूप धारण किया था इसीलिए शारदीय नवरात्रि शक्ति-पर्व के रूप में मनाया जाता है। लगभग इसी तरह चैत्र शुक्ल प्रतिपदा से 9 दिनों तक देवी के आह्वान पर असुरों के संहार के लिए माता पार्वती ने अपने अंश से 9 रूप उत्पन्न किए। सभी देवताओं ने उन्हें अपने शस्त्र देकर शक्ति संपन्न किया। इसके बाद देवी ने असुरों का अंत किया। [https://www.facebook.com/ZiikiBhaktii/] For Business Queries Email: ([email protected]) LIKE || COMMENT || SHARE || SUBSCRIBE #भक्ति #नवरात्रिस्पेशल

最新视频 - 来源于 भक्ति YouTube网红频道
NoxInfluencer团队

欢迎访问NoxInfluencer。商务合作、产品案例、或者有任何建议,可以在这里留言,我们会尽快给您回复。

通过facebook提问
(推荐)